चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में फंसी बीजेपी सांसद रूपा गांगुली, CID ने भेजा नोटिस

0
244

सीआईडी ने चाइल्ड ट्रैफिकिंग मामले में पश्चिम बंगाल से बीजेपी राज्यसभा सांसद रूपा गांगुली को नोटिस भेजा है। बीजेपी सांसद रूपा गांगुली पर कथित तौर पर चाइल्ड ट्रैफिकिंग का आरोप है। इसी मामले को संज्ञान में लेते हुए सीआईडी ने गांगुली को नोटिस भेजा है। Follow ANI ✔ @ANI_news CID sends notice to BJP MP Roopa Ganguly in an alleged child trafficking case. 3:56 PM – 20 Jul 2017 45 45 Retweets 42 42 likes Twitter Ads information and privacy चाइल्ड टैफिकिंग मामले में बीजेपी नेता रूपा गांगुली के अलावा कैलाश विजयवर्गीय और जूही चौधरी का नाम भी शामिल है। बता दें कि इस मामले में बीजेपी नेताओं का नाम आने के बाद जलपाईगुड़ी में युवा तृणमूल कांग्रेस कर कैलाश विजयवर्गीय का पुताला भी जलाया था। कांग्रेस ने आरोपी बीजेपी नेताओं की गिरफ्तारी की मांग की थी। कैलाश विजयवर्गीय और रूपा गांगुली दोनों ही केंद्रीय नेता हैं। इस वजह से बीजेपी के लिए बंगाल में मुश्किलें पैदा हो सकती हैं। गौरतलब है कि सांसद रूपा गांगुली पर दूसरी ओर उनके रेप वाले बयान को लेकर भी उनके खिलाफ 15 जुलाई को एफआईआर दर्ज की गई थी । एक महिला की शिकायत पर रूपा गांगुली के खिलाफ नॉर्थ 24 परगना जिले में मामला दर्ज किया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एक महिला की शिकायत पर कोलकाता के निमता पुलिस थाने में आईपीसी की धारा 505 और 506 के तहत मामला दर्ज किया गया था। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। दरअसल मामला यह था कि भाजपा सांसद रूपा गांगुली ने पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को लेकर विवादित बयान दिया था। रूपा गांगुली ने कहा था कि जो पार्टियां पश्चिम बंगाल की तृणमूल सरकार का समर्थन कर रही हैं, वे अपनी बहू-बेटियों को 15 दिन के लिए बंगाल भेजकर देखें उनका रेप हो जाएगा। उन्होंने कहा था कि मैं सभी पार्टियों और ममता सरकार का समर्थन करने वालों से कहूंगी कि अपनी बहु-बेटियों को बिना ममता सरकार का समर्थन लिए 15 दिन के लिए बंगाल भेज दें और अगर वे बिना रेप का शिकार हुए वापस लौट जाएं तो मैं देखूंगी और अपना बयान वापस ले लूंगी। उनके इस बयान की काफी आलोचना हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here