बोफोर्स तोप में जर्मनी की जगह लगा दिए चीनी पार्ट्स, सीबीआई की FIR दर्ज

0
210

भारतीय सेना को मजबूत करने के लिए बन रही स्वदेशी बोफोर्स तोप को लेकर एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। स्वदेशी बोफोर्स तोपों में लगाए गए कल पुर्जों में मेड इन जर्मनी के टेग लगाकर चीन के पार्ट्स लगा दिए गए। इसके लिए सीबीआई ने दिल्ली की एक कंपनी ‘सिद्ध सेल्स सिंडीकेट के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। इसके साथ ही सीबीआई ने गन्स कैरिज फैक्टरी जबलपुर में अज्ञात अधिकारियों के खिलाफ धोखाधड़ी और जालसाजी और आपराधिक साजिश का केस फाइल किया है। बता दें कि बोफोर्स तोप का स्वदेशी वर्जन धनुष है। 1999 में हुए पाकिस्तान के खिलाफ कारगिल युद्ध में बोफोर्स तोपों ने जबरदस्त प्रर्दशन कर दुश्मनों को ध्वस्त कर दिया था। सीबीआई ने बताया कि पार्ट्स सप्लायार्स ने धनुष तोपों के विनिर्माण में इस्तेमाल किए गए नकली कल-पुर्जे की आपूर्ति को लेकर अज्ञात GSF अधिकारियों के साथ इस आपराधिक साजिश को अंजाम दिया था। सीबीआई ने FIR में कहा कि चीन में बनने वाले रेस रोलर बियरिंग्स को GSF ने मंजूरी दी और इन पार्ट्स की सप्लाई ‘सिद्ध सेल्स सिंडिकेट’ ने सीआरबी-मेड इन जर्मनी के तौर पर की। FIR में आगे बताया गया बियरिंग्स के ऐसे चार टेंडर जारी किए गए थे जिसमें ‘सिद्ध सेल्स सिंडिकेट’ को 2013 में 35.38 लाख रुपये मूल्य का ऑर्डर दिया गया था। लेकिन बियरिंग्स के अधिक मांग के चलते 7 अगस्त, 2014 को इसे 4 से बढ़ाकर 6 कर दिया गया जिसका मूल्य 53.07 लाख रुपये हो गया। बता दें कि इन बियरिंग्स की सप्लाई को दो-दो करके तीन मौकों पर भेजा गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here