पीएम मोदी ने हिमाचल प्रदेश के बिलासपुर में किया AIIMS का शिलान्यास

0
118

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज हिमाचल प्रदेश के अपने दौरे पर बिलासपुर में एम्स की आधारशिला रखी। पीएम ने प्रदेश को एम्स के साथ ऊना और कंदरोड़ी में स्टील प्लांट की भी सौगात दी। अधिकारियों ने पीएम मोदी को स्टील प्लांट का वीडियो भी दिखाया। मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टील प्लांट के पूरे प्रोजेक्ट को लेकर भी चर्चा की। ये भी पढ़ें: 38 दिन बाद सामने आई राम रहीम की लाडली हनीप्रीत, बताया सबकुछ बिलासपुर में 750 बिस्तर वाले इस अस्पताल का निर्माण करीब 1350 करोड़ रुपये की लागत से होगा। यहां स्वास्थ्य सेवाओं के अलावा नर्सिंग, स्नातक और स्नातकोार स्तर पर मेडिकल शिक्षा भी मुहैया करायी जाएगी। पीएमओ ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री कांगड़ा के कंद्रोरी में स्टील ऑथोरिटी ऑफ इंडिया सेल की एक इस्पात प्रसंस्करण इकाई का उद्घाटन भी करेंगे। लाइव अपडेट्स -सर्जिकल स्ट्राइक करके देश की सेना ने दिखा दिया है कि हम भी किसी से कम नहीं हैं -मेरे लिए देश की सेना का जवान प्रथम है। तीन दिन पहले सर्जिकल स्ट्राइक की सालगिरह हुई। मैं मीडिया के लोगों का आभारी हूं -लाखों करोड़ों के प्रॉजेक्ट एक डिपार्टमेंट चलाता था और दूसरा दबाकर बैठा था। मैं सारे निकाल रहा हूं -रिमोट से चलने वाली सरकार के चलते महत्वपूर्ण प्रॉजेक्ट लटके थे -यह कोई इमारत नहीं ऐसी चीज है जो हिमाचल को आधुनिकता की तरफ ले जाएगी -आज यहां IIT का भी शिलान्यास हुआ है। हम एक ऐसा परिसर बनाएंगे जो सच्चे अर्थ में शिक्षा और संस्कार का धाम बने -मैं हर किसी से आग्रह करता हूं कि इंद्रधनुष अभियान में टीकाकरण सुनिश्चित करवाइए -इंद्रधनुष योजना के अंतर्गत टीकाकरण से छूट गए बच्चों का टीकाकरण हो रहा है। फिर से देशभर में बच्चों का टीकाकरण होगा -हिंदुस्तान में हिमाचल के पुरुषों की मृत्यु दर ज्यादा है। बहुत सारे लोग सांस की बीमारी के शिकार हो जाते हैं -यहां दूर-दूर से लोग आते हैं। अगर उनको ट्रॉमा सेंटर की सुविधा मिल जाए तो किसी यात्री को हिमाचल की धरती सुरक्षित घर लौटाएगी -आज यहां एक ही कार्यक्रम में करीब 1500 करोड़ रुपये के काम की शुरुआत हो गई है -कृषि विकास की बात आती है तो बिलासपुर के त्याग की कथा कही जाती है -हिमाचल के लोगों के त्याग के परिणाम से ही पंजाब भी हरा-भरा बना। यह गोविंद सागर यहां के नागरिकों ने देश के विकास के लिए त्याग करके दिया है -माता नैना देवी के आशीर्वाद से यहां की आध्यात्मिक चेतना हमेश प्रज्वलित रहती है -हिमाचल के साथ मेरा पुराना नाता रहा है। यहां से मुझे भरपूर प्यार मिला है। पहाड़ों से ज्यादा तराई में जाने के लिए कितना कष्ट उठाना पड़ात है, यह मैं भलीभांति जानता हूं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here