अब आधार कार्ड नंबर से होने लगी ठगी, पांच सरकारी कर्मचारी बने शिकार

0
20

अगर आपके पास किसी बैंक से आधार कार्ड लिंक कराने के लिए फोन आता है और कोई आपसे आपका आधार नंबर मांगता है, तो सावधान हो जाइए. क्योंकि वह शख्स आपको ऑनलाइन चूना भी लगा सकता है. ऐसा ही मामला यूपी की राजधानी लखनऊ में सामने आया है. जहां शातिर जालसाजों ने आधार कार्ड को खाते से लिंक करने के नाम पर पांच सरकारी कर्मचारियों को ठगी का शिकार बना लिया. मामला लखनऊ के हजरतगंज इलाके का है. बीते दिनों जालसाजों ने पांच सरकारी कर्मचारियों को ठगी का शिकार बना डाला. पीड़ितों के मुताबिक एक शख्स ने उन्हें फोन किया और बैंक अकाउंट से आधार लिंक कराने के लिए कहा. उन्होंने अपना आधार नंबर उस शख्स के साथ साझा कर दिया. जिसके बाद उनके अकाउंट से पैसे कट गए. पांचों के अकाउंट्स से लगभग 2.5 लाख रुपये निकाल लिए गए. पहला मामला शिवराम वर्मा के साथ हुआ जो सचिवालय में बतौर सेक्शन अफसर कार्यरत हैं. बीते दिनों शिवराम को एक फोन आया. जिसमें एक शख्स ने खुद को बैंक अधिकारी बताते हुए उनका आधार नंबर पूछा. उस शख्स ने बताया कि अगर आधार लिंक नहीं कराया तो उनका अकाउंट ब्लॉक हो जाएगा. शिवराम ने आसानी से उस शख्स को अपना आधार नंबर दे दिया. जिसके बाद उस शख्स ने डेबिट कार्ड नंबर मांगा. जिसके बाद शिवराम के मोबाइल में ओटीपी (वन टाइम पासवर्ड) आया. शिवराम ने उस शख्स को ओटीपी बताया. जिसके कुछ देर बाद उनके अकाउंट से दो बार में 80 हजार रुपये कट गए. ऐसी ही घटना सचिवालय में कार्यरत ब्रजेश के साथ हुई. उनके पास भी इसी तरह एक फोन आया. उन्होंने उस शख्स को जानकारी दी और कुछ समय बाद उनके अकाउंट से 60 हजार रुपये कट गए. इसी तरह की ठगी की शिकार स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत निर्मला भी हुई, उनके अकाउंट से 20 हजार रुपये निकाले गए. एलडीए में क्लर्क गिरीश चंद के अकाउंट से 50 हजार तो क्लर्क कृष्णश्री के अकाउंट से 40 हजार रुपये उड़ा लिए गए. पांचो मामले साइबर सेल में दर्ज हैं. साइबर सेल इन मामलों की जांच कर रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here