चहल का टी-20 इंटरनेशनल में यह कारनामा जान हैरान रह जाएंगे आप

0
47

कटक टी-20 में युजवेंद्र चहल की ऐसी फिरकी चली कि 181 रनों का टारगेट का पीछा करने उतरी श्रीलंकाई टीम 87 रनों पर ढेर हो गई. लेग स्पिनर चहल ने उपुल थरंगा (23 रन), एंजेल मैथ्यूज (1), असेला गुणरत्ने (4) और थिसारा परेरा (3) के बेशकीमती विकेट हासिल किए. 27 साल के चहल ने 4 ओवर में 23 रन देकर कुल 4 विकेट झटके. चहल के इसी प्रदर्शन की बदौलत टीम इंडिया ने 93 रनों से जीत हासिल की, जो टी-20 इंटरनेशनल में उसकी सबसे बड़ी जीत है. चहल को मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया. उल्लेखनीय है कि चहल टी-20 में भारत की तीन बड़ी जीत में दो बार मैन ऑफ द मैच रहे. भारत ने इसी साल बेंगलुरू में इंग्लैंड को जब 75 रनों से हराया था, तो चहल ही मैन ऑफ द मैच थे. टी-20: टी इंडिया की तीन बड़ी जीत और मैन ऑफ द मैच 1. 2017: विरुद्ध श्रीलंका 93 रनों से जीत, मैन ऑफ द मैच चहल- 4/23 2. 2012: विरुद्ध इंग्लैंड 90 रनों से जीत, मैन ऑफ द मैच हरभजन सिंह- 4/12 3. 2017: विरुद्ध इंग्लैंड 75 रनों से जीत, मैन ऑफ द मैच चहल- 6/25 इसके साथ ही युजवेंद्र चहल कैलेंडर ईयर-2017 में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज भी बन गए. चहल इस साल 19 विकेट लेकर टॉप पर हैं. 2017 में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज 1. युजवेंद्र चहल (भारत) 10 पारी 19 विकेट 2. राशिद खान (अफगानिस्तान ) 10 पारी 17 विकेट 3. केसरिक विलियम्स (वेस्टइंडीज) 9 पारी 17 विकेट 4. शादाब खान (पाकिस्तान) 10 पारी 14 विकेट 5. इमरान ताहिर (द. अफ्रीका) 9 पारी 14 विकेट युजवेंद्र चहल इसी साल तब रातों रात सुर्खियों में आ गए थे, जब उन्होंने इंग्लैंड के छक्के छुड़ा दिए था. चहल ने 1 फरवरी को इंग्लैंड के खिलाफ बेंगलुरु में 6 विकेट चटकाए थे. जींद (हरियाणा) के इस लेग स्पिनर के पास शतरंज का दिमाग है, जिसे वह चेसबोर्ड पर आजमाया करता था और अब क्रिकेट पिच पर उसका बखूबी इस्तेमाल कर रहा है. टीम इंडिया की ओर से क्रिकेट में पदार्पण से पूर्व शतरंज में भी वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. सात वर्ष की छोटी उम्र से ही चहल को शतरंज और क्रिकेट दोनों में गहरी रुचि थी. वे अंडर-12 में नेशनल चेस चैंपियन रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here