राज्यसभा में सपा ने उठाया नोएडा फर्जी एनकाउंटर का मुद्दा, हंगामे के बाद कार्यवाही स्थगित

0
102

बजट पेश होने के बाद सोमवार से संसद का बजट सत्र दोबारा शुरू हुआ. समाजवादी पार्टी नेता नरेश अग्रवाल ने राज्यसभा में नोएडा फेक एनकाउंटर का मुद्दा उठाया. जिसके बाद सदन में हंगामा शुरू हो गया. उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने लगातार ज़ीरो आवर को चलाने की अपील की. विपक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित हो गई है. शाह का डेब्यू भाषण आज विपक्ष पाकिस्तान की ओर से की जा रही लगातार गोलीबारी का मुद्दा राज्यसभा में उठा सकता है. इस बीच राज्यसभा में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह की डेब्यू स्पीच भी हो सकती है. अमित शाह के भाषण से राष्ट्रपति के अभिभाषण के धन्यवाद प्रस्ताव की शुरुआत होगी. गौरतलब है कि सोमवार से राज्यसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव की शुरुआत होगी. कैराना से बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के निधन के कारण लोकसभा की कार्यवाही स्थगित की जा सकती है. हंगामे के आसार टीडीपी ने सदन में बजट पर जल्द से जल्द बहस शुरू करने के लिए नोटिस दिया है. टीडीपी सांसदों ने संसद के बाहर गांधी मूर्ति पर प्रदर्शन किया, टीडीपी सांसद बजट में आंध्रप्रदेश की अनदेखी से परेशान हैं. राष्ट्रपति के अभिभाषण पर होगा धन्यवाद प्रस्ताव राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने अभिभाषण में मोदी सरकार की उपलब्धियों के बारे में बताया था. राष्ट्रपति के अभिभाषण में एक साथ चुनाव कराने पर मुख्य जोर दिया गया था. गौरतलब है कि 1 फरवरी को मोदी सरकार ने 2019 लोकसभा चुनाव से पहले अपना आखिरी पूर्ण बजट पेश कर दिया है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने इस बार अपने बजट में गरीबों और गांव पर जोर दिया. इस बार बजट में केंद्र सरकार की ओर से स्वास्थ्य बीमा योजना का ऐलान किया गया है. पिछले सत्र में नहीं दे पाए थे भाषण आपको बता दें कि इससे पहले पिछले सत्र में अमित शाह को जीएसटी पर चर्चा के दौरान बोलना था. लेकिन शाह विपक्ष के हंगामे की वजह से अपना भाषण नहीं दे पाए थे. विपक्ष उस दौरान तीन तलाक बिल पर सदन में हंगामा कर रहा था. कुछ इस तरह थी शाह की राज्यसभा में एंट्री आपको बता दें कि बीते साल 8 अगस्त को गुजरात राज्यसभा चुनाव के लिए वोट डाले गए थे. गुजरात से बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और कांग्रेस नेता अहमद पटेल राज्यसभा आए हैं. बीजेपी की ओर से अहमद पटेल को हराने के लिए काफी कोशिशे की गई थीं, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. रद्द हुए थे दो विधायकों के वोट वोटिंग के बाद कांग्रेस ने रिटर्निंग ऑफिसर से अपनी पार्टी के दो बागी विधायकों के खिलाफ शिकायत दर्ज की थी. जिसके बाद चुनाव आयोग ने दो विधायकों के वोट रद्द कर दिए थे. चुनाव में कुल 176 वोट किए गए थे, जिनमें से 2 वोट रद्द होने के बाद 174 की काउंटिंग की गई थी. अहमद पटेल ने 44 वोट हासिल कर जीत दर्ज की. उन्होंने बीजेपी उम्मीदवार बलवंत राजपूत को शिकस्त दी थी. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को 46 वोट मिले थे तो वहीं स्मृति ईरानी को भी 46 वोट मिले थे. जबकि बलवंत सिंह राजपूत को महज 38 वोट मिले थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here