इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देगी केंद्र सरकार, गडकरी ने लॉन्च की कई गाड़ियां

0
7

वो दिन दूर नहीं जब देश में बड़े पैमाने पर इलेक्ट्रिक बैट्री से चलने वाले वाहनों का इस्तेमाल होने लगेगा. केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री नितिन गडकरी और नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमिताभ कांत ने इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाले स्कूटर, कार, बस को लॉन्च किया. इस मौके पर पर गडकरी ने कहा कि इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाले वाहनों से प्रदूषण में कमी आएगी और साथ ही लोगों के ट्रांसपोर्टेशन के खर्च में भी कमी आएगी. गडकरी के मुताबिक इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाले वाहनों को प्रोत्साहन देने की दिशा में मोदी सरकार आगे बढ़ रही है ताकि पेट्रोल और डीजल से चलने वाले वाहनों में कमी आए. इससे सस्ता ट्रांसपोर्टेशन उपलब्ध हो सकेगा. गडकरी का मानना है कि 2030 तक इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाहनों की दिशा में देश में बड़ा बदलाव होगा. सड़क और परिवहन मंत्रालय, भारी उद्योग मंत्रालय और नीति आयोग मिलकर इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाले वाहनों से जुड़ी पॉलिसी पर काम करेंगे. सरकार को उम्मीद है कि जल्दी ही बैटरी से चलने वाले वाहनों की कीमतों में कमी आएगी जिससे कि उन्हें ज्यादा से ज्यादा लोग खरीद सकेंगे. सड़क और परिवहन मंत्रालय ने इलेक्ट्रिक वाहन निर्माता कंपनियों से कहा है कि सभी वाहनों का चार्जिंग प्लग एक ही डिजाइन का बनाएं. जिससे इस तरह के वाहनों के बड़ी संख्या में इस्तेमाल होने की स्थिति में चार्जिंग की समस्या का सामना नहीं करना होगा. सरकार की कोशिश रहेगी कि दस साल में पूरे देश में चार्जिंग पाइन्ट्स उपलब्ध हो जाएं. नीति आयोग ने ये भी तय किया है कि विभाग में भी इलेक्ट्रिक बैटरी से चलने वाली कुछ कारें इस्तेमाल में लाई जाएंगी. इसके लिए बुधवार को ही नीति आयोग में चार्जिंग पाइंट भी लगाया गया. बता दें कि दो साल पहले गडकरी ने संसद भवन में सांसदों को लाने-ले जाने के लिए बैटरी से चलने वाली बस लॉन्च की थी. उसके बाद केंद्रीय मंत्रियों में अनंत गीते और गिरिराज सिंह ने बैटरी से चलने वाली कारों का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here