बिहार के आरा में आतंकियों के कमरे में धमाका, बड़ी साजिश नाकाम, 4 फरार

0
4

बिहार के आरा जिले में एक बड़ी आतंकी साजिश नाकाम हो गई है. यहां के हरखेन कुमार धर्मशाला के पास बम ब्लास्ट हो गया. गनीमत रहा कि बम लो डेंसिटी था. इस ब्लास्ट में एक आतंकी बुरी तरह जख्मी हो गया है. ब्लास्ट की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई है. इस मामले की जांच की जा रही है. जानकारी के मुताबिक, आरा के नगर थाना के जेल रोड पर स्थित हरखेन कुमार धर्मशाला के पास बम ब्लास्ट हुआ है. सूत्रों के मुताबिक आज सुबह 5 बजे कोलकाता से 5 संदिग्ध आतंकवादी आरा पहुंचे थे. वहां पहुंचने के बाद सीधे धर्मशाला चले गए. उनके कमरे में सामान रखने के दौरान यह ब्लास्ट हो गया है. इस ब्लास्ट में संदिग्ध आतंकवादियों में से एक बुरी तरह जख्मी हो गया. इसके बाद बाकी चार आतंकवादी वहां से फरार हो गए. इसकी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची घायल आतंकवादी को अस्पताल ले गई. उसके पास से पिस्तौल बरामद हुई है. आतंकवादी आरा में किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के इरादे से पहुंचे थे. बताते चलें कि पिछले महीने जनवरी में ही बोधगया को दहलाने की साजिश नाकाम हो गई थी. आतंकियों ने महाबोधि मंदिर परिसर के पास तीन जगहों पर विस्फोटक छुपा रखे थे. इसी बीच कालचक्र मैदान के गेट नम्बर चार के जेनरेटर के पास थरमस फटने की घटना हुई. इसकी आवाज सुनकर सुरक्षा में तैनात पुलिसवाले पहुंचे. पुलिस तलाशी के दौरान लावारिस हालत में एक बैग मिला. संदिग्ध वस्तु दिखने के बाद तत्काल बम निरोधक दस्ता को बुलाया गया. स्कैन करने पर पता चला कि इसमें विस्फोटक रखा हुआ है. इस तरह एक-एक कर तीन जगहों से विस्फोटक बरामद किया गया. विस्फोटक रखने वाले दो आतंकियों को कोलकाता से गिरफ्तार किया गया था इससे पहले 7 जुलाई 2013 को बोधगया में सीरियल बम ब्लास्ट हुए थे. इसको इंडियन मुजाहिद्दीन ने अंजाम दिया था. साल 2014 में पटना के गांधी मैदान में भी धमाके हुए थे. इसके बाद इंडियन मुजाहिद्दीन के कई आतंकियों को गिरफ्तार किया गया था. इसमें आईएम के संस्थापक यासीन भटकल के अलावा कई आतंकी शामिल थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here