दिल्ली में बिजली एक रुपये प्रति यूनिट सस्ती, फिक्स चार्ज 6.5 गुना बढ़ा

0
79

दिल्ली सरकार ने गर्मी शुरू होते ही बिजली की कीमतों में कटौती की है, लेकिन फिक्स चार्ज में 2.5 से लेकर 6.5 गुना तक का इजाफा किया है. केजरीवाल सरकार ने 2 किलोवाट लोड वाले घरों में बिजली के फिक्स चार्ज को 20 रुपये से बढ़ाकर 125 रुपये कर दिया है. लिहाजा बिजली उपभोक्ताओं को फिक्स चार्ज 125 रुपये से 250 रुपये तक देना होगा. अभी तक बिजली का न्यूनतम फिक्स चार्ज 20 रुपये था, जो अब 125 रुपये होगा. यह पहली बार नहीं है, जब दिल्ली सरकार ने बिजली के फिक्स चार्ज में बढ़ोतरी की है. इससे पहले भी कई बार सरकार फिक्स चार्ज में वृद्धि कर चुकी है. वहीं, केजरीवाल सरकार ने बिजली की कीमतों में कटौती करके आम जनता को राहत भी दी है. 0-200 यूनिट तक की बिजली की कीमत में एक रुपये प्रति यूनिट की दर से कटौती की गई है. इसके अलावा 201-400 यूनिट तक की बिजली की कीमत में 1.45 रुपये प्रति यूनिट और 401-800 यूनिट तक की कीमत दर में 80 पैसे प्रति यूनिट की दर से कमी की गई है. इस लिहाज से केजरीवाल सरकार ने बिजली की यूनिट की कीमत दर में कमी की है, जिसका फायदा सभी घरेलू ग्राहकों को मिलेगा. हालांकि फिक्स चार्ज में वृद्धि से लोगों को झटका लगा है. इस तरह 201-400 यूनिट तक बिजली का इस्तेमाल करने वाले ग्राहकों को सबसे ज्यादा फायदा मिलेगा. अब 200 यूनिट तक बिजली इस्तेमाल करने पर चार रुपये की बजाय तीन रुपये प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना होगा, जबकि 201 से लेकर 400 यूनिट तक बिजली का उपयोग करने पर 5.95 रुपये की बजाय 4.50 रुपये प्रति यूनिट की दर से बिल देना होगा. इसके अलावा 401 से लेकर 800 यूनिट तक के बिजली के बिल का भुगतान 7.30 रुपये की बजाय 6.50 रुपये प्रति यूनिट, 801 से लेकर 1200 यूनिट तक का भुगतान 8.10 की बजाय सात रुपये प्रति यूनिट और 1200 यूनिट तक के बिजली बिल का भुगतान 8.75 रुपये की बजाय 7.75 रुपये प्रति यूनिट की दर से करना होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here