सपा सभासद के बेटे की हत्या, परिजनों ने जाम किया लखनऊ-बनारस हाइवे

0
8

उत्तर प्रदेश पुलिस ने बदमाशों पर लगाम लगाने के लिए ताबड़तोड़ एनकाउंटर का सिलसिला चला रहा है, इसके बावजूद कानून-व्यवस्था को लेकर आए दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कठघरे में खड़ा कर दिए जाते हैं. यूपी में कानून व्यवस्था के लिए चुनौती बने बदमाशों ने अब समाजवादी पार्टी के एक सभासद के बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी है.

घटना बाराबंकी जिले की है. जानकारी के मुताबिक, बदमाशों ने पुरानी रंजिश में SP सभासद के बेटे की हत्या कर दी. सभासद के बेटे का नाम दुर्गेश बताया जा रहा है.

बेटे की हत्या के विरोध में परिजनों ने लखनऊ-बनारस हाईवे पर शव रखकर प्रदर्शन शुरू कर दिया है और हाईवे पर यातायात जाम कर दिया है.

बताते चलें कि पिछले ही महीने उत्तर प्रदेश के महोबा जिले में पुलिसकर्मियों ने एक महिला किसान नेता की ट्रैक्टर से कुचलकर हत्या कर दी थी. जानकारी के मुताबिक, बुंदेलखंड किसान यूनियन की महोबा इकाई की अध्यक्ष चंन्द्रकली की हत्या के कुलपहाड़ थाना प्रभारी और दो उपनिरीक्षकों को निलंबित भी कर दिया गया.

इसके अलावा एक एसआई और एक सिपाही को बर्खास्त कर दिया गया. जानकारी के मुताबिक, अकौनी गांव निवासी महिला किसान नेता चन्द्रकली ने शौचालय बनवाने के लिए बालू की अनुमति के लिए सीओ कार्यालय में एक सप्ताह पहले पत्र दिया था, लेकिन उपनिरीक्षक सुमित नारायण तिवारी और सिपाही बंशगोपाल शर्मा दिलीप राजपूत के ट्रैक्टर को जबरन रोक कर थाने ला रहे थे.

महिला का तर्क भी नहीं सुना और ट्रैक्टर चढ़ा दिया , जिससे उनकी मौत हो गई. एसआई सुमित और सिपाही बंशगोपाल के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया. एसआई को जेल भेज दिया गया है, जबकि सिपाही पुलिस हिरासत से फरार है. इस मामले में थानाध्यक्ष मधुसूदन मिश्र और एसआई राजा दुबे को निलंबित कर दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here