नर्स ने ज़हर देकर की 20 मरीजों की हत्या

0
22
प्रतीकात्मक फोटो

मरीजों की जान डॉक्टर की तरह उन नर्सों की हाथों में भी होती है, जो उनकी सेवा में दिन रात एक कर देती हैं. कई नर्सों ने युद्ध, भूकंप जैसे आपातकाल की स्थ‍िति में लगातार कई घंटों तक काम कर पूरी दुनिया में नर्सों को लेकर एक बेहतरीन छव‍ि बनाई है. हालांकि जापान की एक नर्स ने इस महान माने जाने वाली फ‍िल्ड को बदनाम करने का काम किया है.

जापान में एक अस्पताल में तैनात एक नर्स अयुमो कोबुकी के ऊपर 20 मरीज की हत्या करने का आरोप है.आरोप है कि 2016 के दौरान आयुमी कोबुकी बुजुर्ग मरीजों की ड्रिप में एंटीसेप्ट‍िक सल्यूशन को इंजेक्ट कर देती थी.जापान पुलिस के अनुसार आयुमी कोबुकी ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है.

आयुमी कोबुकी के अनुसार वह मरीजों को इसलिए मौत की नींद सुला रही थी कि उनकी मौत दूसरी नर्सों की श‍िफ्ट में हो न कि उसके. ऐसा इसलिए क्योंकि उसे मरीजों के परिजनों को उनके रिश्तेदार की मौत की सूचना देने में झ‍िझक होती थी.

पुलिस ने उस समय जांच शुरू की थी, जब एक नर्स ने एक 88 साल के मरीज नोबुओ यामाकी की सितंबर 2016 में मौत होने के बाद उनकी ड्र‍िप में बबल्स देखा. बबल्स मौजूद होने का मतलब होता है कि ड्रिप बैग से छेड़छाड़ की गई है.बाद में डॉक्टरों ने यामाकी के खून में काफी मात्रा में एंटीसेप्ट‍िक सल्यूशन पाया और इस नतीजे पर पहुंचे कि उसे जहर दिया गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here